Monday, July 8, 2024

शेखावाटी कृषि फार्म एवं उद्यान नर्सरी

राष्ट्रीय बागवानी बोर्ड (NHB)द्वारा पंजीकृत नर्सरी
जैविक प्रमाणीकरण संस्थान(ROCA) द्वारा पंजीकृत बगीचा

TOP CLASS QUALITY

हम नर्सरी से उच्च गुणवत्ता वाले पौधे प्रदान करते हैं। जो कम समय में उत्पादन देते हैं सभी जैविक पौधे और फल की बाजार में उच्च मांग हैं।

All Natural

सभी पौधों को जैविक तरीके से तैयार किया जाता है जिससे पौधे स्वस्थ तथा फल गुणवत्ता युक्त होते हैं

MAX. PRODUCTION

सभी पौधे कम समय में अधिक उत्पादन देते हैं तथा कृषि अधिकारियों का समय समय पर निरीक्षण होता है

Complete Care

वृक्षारोपण से संबंधित कोई भी प्रश्न पूछें, 1 दिन के भीतर उत्तर प्राप्त करें। पूरी तरह से नि: शुल्क जानकारी और देखभाल प्राप्त करें

nhb acc.nursery

यह नर्सरी राष्ट्रीय बागवानी बोर्ड द्वारा एक्रेडिटेड है जिससे किसान भाइयों को फलदार पौधों पर सब्सिडी मिलती है

हमारी टीम से मिलिए

हमारी टीम के सदस्य आपकी सहायता करने और उत्कृष्ट सेवा प्रदान करने के लिए हमेशा तैयार रहते हैं। जो राष्ट्रीय स्तर पर सम्मानित है

ramkaran singh

owner

santosh devi

owner

rahul khedar

owner

Discover our all Natural Health Solutions for Body and Spirit

If you need any help or advice on therapies, please contact us and we will be happy to assist you. Get incredible value with our service packs. All members are eligible for regular discounts, apart from the seasonal offers and announcements. For every person reffered, you get 25% off on our Spa Package and Fitness Package.

fruit plant nursery-फलदार पौधे

अनार

मुख्य रूप से उन्नत नस्ल सिंदूरी अनार के पौधें तैयार किये जाते हैं।

नींबू

नींबू की कागजी सदाबहार किस्म जिनसे एक साल बाद ही उत्पादन शुरू हो जाता है

red dimound guava

साइज में बड़े जापानी अमरूद का अंदर का रंग तरबूज जैसा लाल है. इसमें बीज की संख्या बहुत कम है.

अंजीर

यह अंजीर की डायना वैरायटी है उत्पादन 1 वर्ष में शुरू हो जाता है और इसके फल की साइज बड़ी आती है

जामुन

यह ग्राफ्टेड जामुन का पौधा है 2 साल में उत्पादन शुरू हो जाता है और फल अधिक संख्या में आते हैं

संतरा

संतरा Orange एक खट्टा मीठा फल है जो स्वास्थ्य वर्धक भी है। यह फल आकार में गोल होता है और इसका रंग ऑरेंज होता है।

बेलपत्र

यह बेलपत्र की देसी किस्म है जिसका उत्पादन 4 वर्ष में शुरू होता है किसके एक फल का वजन 1-1.5 kg होता है

कश्मीरी एप्पल बेर

बेर यह बेर की हाइब्रिड की किस्म है जिसके फल का रंग लाल होता है तथा फल की साइज 100 ग्राम तक होती है तथा इसका उत्पादन 1 वर्ष में शुरू हो जाता है

चीकू काला पत्ती

यह अत्यधिक उत्पादन और अच्छी गुणवत्ता वाली किस्म है इसके फल अंडाकार और कम बीज वाले होते हैं यह फल मुख्यतः सर्दियों में पकते हैं इसका फल लंबा तथा खाने में स्वादिष्ट होता है

पपीता

पपीते की किस्म ताइवानी रेड लेडी -786 किस्म जिसमे नर मादा पेड़ों की भिन्नता नहीं होती, और प्रत्येक पेड़ पर लगभग एक क्विंटल तक फल लगते है

आम आम्रपाली

आम की यह आम्रपाली किस्म है जिसका उत्पादन 1 वर्ष में शुरू हो जाता है तथा यह हर वर्ष फल देने वाली किस्में

सेव HRMN-99

सेव की यह वैरायटी गर्मियों में उत्पादन देती है तथा इसकी खेती सभी जगह के गर्म इलाकों में की जाती है

थाई बेर

यह बेर की हाइब्रिड किस्म है जिसका उत्पादन 1 वर्ष में शुरू हो जाता है इसके फल का वजन 100-150 GM होता है

अमरूद

अमरूद की मुख्य रूप से L-49,VNR VARIETY की खेती की जाती है जो कम समय में अधिक उत्पादन देती है

किन्नु

इसका फल सुनहरी, संतरा रंग का होता है, इसके फल हल्के खट्टे ओर स्वादिष्ट होते है। ग्राफ्टिंग कर पौधें तैयार किये जाते हैं। जिनमें 1 साल में उत्पादन शुरू हो जाता है

MOSAMBI

गंगानगर किस्म जिसके निचले भाग मे चवन्नी आकार की रिंग होती है, जो इसकी विशेष पहचान है, जिसमें रस की मात्रा सामान्य से ज्यादा होती है

माल्टा

यहMOSAMBI की एक वैरायटी है

इमली

इमली की हाइब्रिड किस्म है जिसका उम्र 2 वर्ष में शुरू हो जाता है और इसका फल बहुत ही मीठा होता है

संतोष देवी ने महज 5 बीघा जमीन में अनार की बागवानी करके प्रदेश का नाम रोशन किया है और इनके अनार की क्वालिटी है वह बहुत ही शानदार है यह हमारे लिए गर्व की बात है

PRABHU LAL SAINI

EX AG MINISTER

श्री रामकरण खेदड़ एवं उनकी धर्मपत्नी संतोष खेदड़ बहुत ही मेहनती प्रगतिशील किसान है इन्होंने कम जमीन में बागवानी करके संपूर्ण प्रदेश मैं अपना नाम रोशन किया है

AMBRISH KUMAR

IAS

श्री रामकरन जाट बहुत मेहनती व्यक्ति हैं। उनके प्रयासों से शेखावाटी कृषि फार्म में प्रति वर्ष 25-30 लाख की आय होती है

PAWAN KUMAR GOEL

IAS

हम अनार के बगीचे की उन्नत तकनीक से प्रभावित थे, उन्होंने फलों की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दिया और साथ ही साथ जैविक खेती को अपनाया, जो जिले के किसानों के लिए प्रेरणा का स्रोत है।

HARLAL SINGH BIJARNIA

DEPTY DH SIKAR, RAJ

शेखावाटी कृषि फार्म एवं उद्यान नर्सरी राजस्थान के सभी किसानों के लिए एक उदाहरण है जो छोटे / बड़े पैमाने पर बागवानी की खेती करते है। जिसे एक MODELके रुप में विकसित किया है

DR.JUNAID AKHTER

SCIENTIST KVK FATEHPUR RAJASTHAN